गुरुवार, 4 अगस्त 2011

फिर मिलेंगे

मित्रों, एकाएक मेरा विलगाव आपलोगों को नागवार लग रहा है, किन्तु शायद आपको यह पता नहीं है की मैं पिछले कई महीनो से जीवन के लिए मृत्यु से जूझ रही हूँ । अचानक जीभ में गंभीर संक्रमण हो जाने के कारन यह स्थिति उत्पन्न हो गयी है। जीवन का चिराग जलता रहा तो फिर खिलने - मिलने का क्रम जारी रहेगा। बहरहाल, सबकी खुशियों के लिए प्रार्थना।

47 टिप्‍पणियां:

kshama ने कहा…

Aap sheeghr swasth ho jayen yahee eeshwar se dua hai! Phir zaroor milenge!!

हेमंत कुमार ♠ Hemant Kumar ने कहा…

Sandhya ji,
kya ho gayaa apko?...ishvar se prarthana hai ki ap shighra svasth hon aur punah sahitya ke liye apke yogdan ka kram prarambha ho jay....shubhkamnayen.
Hemant Kumar

Avinash Chandra ने कहा…

प्रतीक्षा कैसी भी हो, कितनी भी हो, की जा सकती है।
आप शीघ्र स्वास्थ्य लाभ करें।

๑♥!!अक्षय-मन!!♥๑, ने कहा…

areyy meri pyari badi behna aap jaldi theek ho jayege aapke liyee ham sab bhagwaan se prarthna karaingeee jaldi jaldi theek hokar wapas aao aap.....
mujhe vishwaas hai ishwar par bhi khud par bhi aur aapki himmat par bhi.....get well soon....

ज्योति सिंह ने कहा…

sandhya ji aapki wapsi sukoon de rahi hai ,ek lamba samya ho gaya ,bas kuchh pdhne ki khwahish hai lekin pahle aap poori taur par swasth ho jaaye yahi dua hai .

पी.एस .भाकुनी ने कहा…

शीघ्र स्वास्थ लाभ की कामनाओं के साथ ब्लॉग जगत में आपकी सक्रियता आपेक्षित है,

राजेश उत्‍साही ने कहा…

बात तो सही है आपकी कमी अखरती रही है। पर आप ऐसे किसी संक्रमण से ग्रस्‍त हैं,यह जानकारी नहीं थी। कामना है कि आप जल्‍दी स्‍वस्‍थ्‍य हो जाएं। फिर मिलेंगे और जरूर मिलेंगे।

Surender Dalal . ने कहा…

chala to tha ulhana dene apke is "Achcha laga is blog par aakar.Shubkamnayen". ko padh kr. pr apke blog pr post "fir milenge" padh kar sharir men kamkampi... kuchh khne ki stithi me nhi rha. apke shighr swasth labh ki kamna.

संजय भास्कर ने कहा…

आप शीघ्र स्वास्थ्य लाभ करें।

sheetal ने कहा…

sandhya didi
aap jald swasth ho aur fir apni lekhni ka jaadu chalaye..aur aap zarur theek ho jaayengi..aisa hum sabka vishwaas hain.

राकेश कौशिक ने कहा…

शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना - सादर

Einstein ने कहा…

Eshwar aapko vo jajba de jiske sahre aap purnatya swasth hokar vaps apne dincharya me mashgul ho jayen...

Vijay Kumar Sappatti ने कहा…

आप क्ज्ल्दी से अच्छी हो जाईये , हम सभी को आपकी जरुरत है , भगवान जी , जल्दी ही आपको ठीक करेंगे .

विजय

आर. अनुराधा ने कहा…

संध्याजी, आपसे संपर्क करना चाह रही हूं, पर आपका नंबर मेरे पिछले फोन के साथ ही खो गया। अपना मोबाइल नंबर मुझे कृपया ईमेल कर दें। ranuradha11@gmail.com

GAURAV ने कहा…

Aap ke health ke baare me jankar bahut dukh mahsus kar raha hu.... Aap jald hi phir se kuchh achha likhengi hame ye vishwas hai...

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

आदरणीय सन्ध्या जी,

लम्बे समय से आपकी कुशलता की कोई सूचना नहीं है। कृपया एक माइक्रोपोस्ट लिखकर अपनी खैरियत का सन्देश दीजिये।

सतीश सक्सेना ने कहा…

स्मार्ट इंडियन की एक पोस्ट पर आपके बारे में जान कर चिंतित हूँ , आप अपने संक्रमण लक्षणों के बारे में लिखें ...होमिओपैथी में उपचार आसानी से संभव है, कई हाथ आगे आयेंगे !
शुभकामनायें !

shilpa mehta ने कहा…

jaldi swasth ho jaaiye sandhya ji

shubhkaamnayein

संगम "कर्मयोगी" ने कहा…

Shubhkamnaayen!

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

विनम्र श्रद्धांजलि!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Swarajya karun ने कहा…

हे भगवान ! ये क्या हो गया ! नियति के निर्णय के आगे सबको नतमस्तक होना पडता है, लेकिन संध्याजी अचानक एक दिन हम सबकी आँखों से इस तरह हमेशा के लिए ओझल हो जाएँगी , विश्वास नहीं होता . ब्लॉग जगत में उनके संवेदनशील लेखन की एक अलग पहचान बन रही थी . उनमें काफी संभावनाएं थीं .उनके आकस्मिक निधन की खबर ह्रदय विदारक है . विनम्र श्रद्धांजलि और उनके शोक-संतप्त परिवार जनों के लिए हम सबकी ओर से गहरी संवेदनाएं .

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

मिलने का वादा करके मुकर गयीं आप तो ...

विनम्र श्रद्धांजलि

सुमित प्रताप सिंह Sumit Pratap Singh ने कहा…

विनम्र श्रद्धांजलि...

बोधिसत्व ने कहा…

श्रद्धांजलि, अचानक जाना और देर से पता लगना। क्या कहें.

shilpa mehta ने कहा…

श्रद्धांजलि ...

बेनामी ने कहा…

SANDHYA !
VINAMARA SHRADHANJALI.
UDAY TAMHANEY.
BHOPAL.

अशोक कुमार शुक्ला ने कहा…

तुम्हीं से गये दास्तां कहते कहते

सन्ध्या जी
यह तो वादा खिलाफी है

विनम्र श्रद्वांजलि

Dheeresh ने कहा…

ab kuchh likhte banta nahi, jab likhna chahiye tha tab jane kaha raha

Dheeresh ने कहा…

ab kuchh likhte banta nahi, jab likhna chahiye tha tab jane kaha raha

उपेन्द्र नाथ ने कहा…

विनम्र श्रद्धांजलि..

कविता रावत ने कहा…

Behad dukhad...vishwas hi nahi hota ki blog parivar se koi sada ke liye door ja chuka hai..
vinamra shrdhanjali....

Rakesh Kumar ने कहा…

आशा है आप स्वस्थ हो गयीं होंगीं.
नववर्ष की आपको बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.

समाचार दीजियेगा.

VIJAY KUMAR VERMA ने कहा…

नववर्ष की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ

Rakesh Kumar ने कहा…

मुझे बहुत अफ़सोस है की संध्या जी के निधन
का मुझे पता नही चल सका.

पूरी टिप्पणियाँ नही पढ़ पाया था.डॉ. नूतन जी
से आज ही पता चला.

मेरी विनम्र श्रद्धांजलि.

Surbhi ने कहा…

विनम्र श्रद्धांजलि.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

मेरी ओर से भी विनम्र श्रद्धाजलि!

सतीश सक्सेना ने कहा…

अरे यह क्या हुआ ....
एक बेहतरीन शख्शियत हमसे छिन गयी ...

ब्लॉ.ललित शर्मा ने कहा…

ओह, बहुत दुखद, विश्वास नहीं हो रहा। मुझे तो आज पता चला। ब्लाग पर आने के बाद्।

विनम्र श्रद्धांजलि

आशा जोगळेकर ने कहा…

विश्वास नही हो रहा । विनम्र श्रध्दांजली ।

Rohit Kumar ने कहा…

Ma'm i had the priveladge to know you as a person due to Pragya n i must say u will stay alive in our hearts for Time ImmORTAL due to the standard of urbthought process which is just immaculate.M extremely sorry Prags...RIP MA'M...

Sudesh Bhatt ने कहा…

मेरी ओर से विनम्र श्रद्धाजलि!

Sudesh Bhatt ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Udan Tashtari ने कहा…

विश्वास नहीं होता....विनम्र श्रद्धांजलि

बेनामी ने कहा…
इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.
फ़िरदौस ख़ान ने कहा…

विनम्र श्रद्धांजलि...

hem pandey(शकुनाखर) ने कहा…

ब्लाॅगजगत में पोस्ट होने वाली कविताओं में संध्या गुप्ता की कविताएं स्तरीय होतीं थीं।अब इस सुख से वंचित रहना पड़ेगा।